हम हैं आपके साथ

यह हमारी नवीनतम पोस्ट है:


कृपया हिंदी में लिखने के लिए यहाँ लिखे

आईये! हम अपनी राष्ट्रभाषा हिंदी में टिप्पणी लिखकर भारत माता की शान बढ़ाये.अगर आपको हिंदी में विचार/टिप्पणी/लेख लिखने में परेशानी हो रही हो. तब नीचे दिए बॉक्स में रोमन लिपि में लिखकर स्पेस दें. फिर आपका वो शब्द हिंदी में बदल जाएगा. उदाहरण के तौर पर-tirthnkar mahavir लिखें और स्पेस दें आपका यह शब्द "तीर्थंकर महावीर" में बदल जायेगा. कृपया "आपकी शायरी" ब्लॉग पर विचार/टिप्पणी/लेख हिंदी में ही लिखें.

शुक्रवार, जनवरी 13, 2012

माँ देखें कहीं जेब में सल्फास तो नहीं

दोस्तों, गौर कीजिए अर्ज किया है कि :-
1. लहरों को शांत देखकर यह मत समझना कि समुन्द्र में रवानी (तेज) नहीं है !
जब हम उठेंगे तो तूफ़ान बनके उठेंगे, अब तक हमने उठने की ठानी नहीं है !!
2. फ़रिश्ते भी आसमां से अगर उतर आयेंगे !
वो भी सच बोले तो मारे जायेंगे !!

3. हमने काँटों को भी दिल में जगह दी !
लोग बेरहम है फूलों को मसल देते हैं !!

4. मत ले किसी मजलूम की आह !
यह तेरी हस्ती मिटा सकती है !!

5. खेत खड़े खाए है हिंसा ने, खून के दरिया बहाए है हिंसा ने !
गैरों और अपनों को नहीं बख्शा है, जुल्म इतने ढहाए है हिंसा ने !!
दोस्तों, गौर कीजिए अर्ज किया है कि :-

1. कौन कहता है कि पत्थर दिल आँसू नहीं बहाते, 
वरना यूँ ही तो पत्थरों से झरने न निकलते !

2.शहर में आकर पढ़ने वाले भूल गए, 
किसकी माँ ने कितना जेवर बेचा है !

3. ऐ-कृष्ण भगवान जब आपकी संगत में थें, 
कैसे फिर पांडव जुआरी हो गये !

4. हमने पढ़-लिख के फ़कत इतना हुनर सीखा, 
अपनी माँ भी हमको महरी नजर आने लगी ! 

दोस्तों, गौर कीजिए अपनी किस्मत पर अर्ज किया है कि :-

बदलेगी तक़दीर कभी हमारी भी दोस्तों, 
यूँ तो हार घड़ी खुदा भी वैरी नहीं होता.
 
दोस्तों, गौर कीजिए अपनी पत्नी को समर्पित अर्ज किया है कि :-

यहाँ पर लोग करते हैं पत्थरों की पूजा, 
वो क्या हुआ जो हमने एक वेवफा को पूजा !
दोस्तों, गौर कीजिए बेरोजगार बेटे की माँ की पीड़ा पर अर्ज किया है कि :-

माँ रोज जेब देखें बेरोजगार बेटे की, 
कहीं जेब में सल्फास तो नहीं !

9 टिप्‍पणियां:

  1. बहोत अछि लगी आप की शायरी भाई

    उत्तर देंहटाएं
  2. बहुत बढ़िया शायरी है भाई जी।।।

    उत्तर देंहटाएं
  3. बहुत बढ़िया शायरी है भाई जी।।।

    उत्तर देंहटाएं
  4. बहुत बढ़िया शायरी है भाई जी।।।

    उत्तर देंहटाएं
  5. Achhi Shayriyon Ka Collection, Jo ki bahut achhi lagi. Being in love is, perhaps, the most fascinating aspect anyone can experience.

    Thank You.

    उत्तर देंहटाएं

  6. तुझे देखा तो ये जाना सनम
    प्यार होता है दीवाना सनम
    अब यहाँ से कहाँ जाएँ हम
    तेरी बाँहों में मर जाएँ हम
    तुझे देखा तो ये जाना सनम...

    आँखें मेरी, सपने तेरे
    दिल मेरा, यादें तेरी
    हो मेरा है क्या, सब कुछ तेरा
    जाँ तेरी, साँसें तेरी
    मेरी आँखों में आँसू तेरे आ गए
    मुस्कुराने लगे सारे ग़म
    तुझे देखा तो ये जाना सनम...

    ये दिल कहीं, लगता नहीं
    क्या कहूँ, मैं क्या करूँ
    हाँ, तु सामने, बैठी रहे
    मैं तुझे देखा करूँ
    तूने आवाज़ दी, देख मैं आ गई
    प्यार से है बड़ी क्या क़सम
    तुझे देखा तो ये जाना सनम...

    उत्तर देंहटाएं
  7. हर पल मे खुशी देती है माँ,
    अपनी ज़िंदगी से जीवन देती है माँ,
    भगवान क्या है!!! माँ की पूजा करो जनाब,
    क्यूकी भगवान को भी जनम देती है माँ।

    उत्तर देंहटाएं
  8. बहुत सुन्दर बिचार है आप के
    धन्यवाद

    उत्तर देंहटाएं

अपने बहूमूल्य सुझाव व शिकायतें अवश्य भेजकर मेरा मार्गदर्शन करें. आप हमारी या हमारे ब्लोगों की आलोचनात्मक टिप्पणी करके हमारा मार्गदर्शन करें और हम आपकी आलोचनात्मक टिप्पणी का दिल की गहराईयों से स्वागत करने के साथ ही प्रकाशित करने का आपसे वादा करते हैं. आपको अपने विचारों की अभिव्यक्ति की पूरी स्वतंत्रता है. लेकिन आप सभी पाठकों और दोस्तों से हमारी विनम्र अनुरोध के साथ ही इच्छा हैं कि-आप अपनी टिप्पणियों में गुप्त अंगों का नाम लेते हुए और अपशब्दों का प्रयोग करते हुए टिप्पणी ना करें. मैं ऐसी टिप्पणियों को प्रकाशित नहीं करूँगा. आप स्वस्थ मानसिकता का परिचय देते हुए तर्क-वितर्क करते हुए हिंदी में टिप्पणी करें.

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...

क्रान्ति का बिगुल बजाये

जनकल्याण हेतु अपनी आहुति जरुर दें
हर वो भारतवासी जो भी भ्रष्टाचार से दुखी है,वो देश की आन-बान-शान के लिए अब भी समाजसेवी श्री अन्ना हजारे का समर्थन करने हेतु एक बार 022-61550789पर स्वंय भी मिस्ड कॉल करें और अपने दोस्तों को भी करने के लिए कहे.यह श्री हजारे की लड़ाई नहीं है बल्कि हर उस नागरिक की लड़ाई है. जिसने भारत माता की धरती पर जन्म लिया है.पत्रकार-रमेश कुमार जैन उर्फ़ "सिरफिरा" सरफरोशी की तमन्ना अब हमारे दिल में है, देखना हैं ज़ोर कितना बाजू-ऐ-कातिल में है